पावर कट पर अपने विचार सोशल मीडिया पर न रखे | हो सकता है राजद्रोह का मुकदमा |

By | जून 15, 2019
mangelal agarwal/ power cut man

जी हाँ , पावर कट पर अपने विचार व्यक्त करना एक व्यक्ति को भरी पड़ा गया जब उस पर राजद्रोह का मुकदमा लग गया |

यदि आप अपने किसी सरकारी विभाग द्वारा दी गयी सेवाओं में अनियमितता पाते है, या कोई भी सरकारी कंपनी आपको सही प्रकार से सेवाएं नहीं दे रही है तो आप अपनी भड़ास सोशल मीडिया बिलकुल न निकाले जैसा भी चल रहा है चुपचाप उसे होता हुआ देखते रहे और भगवान् ही उसे ठीक करेगा ऐसा सोच कर भगवान् पर छोड़ दे,

छत्तीसगढ़ के मांगेलाल पर हुआ राजद्रोह का केस

बार बार हर घंटे में बिजली 5 से 10 कटौती मिनिटि की कटौती से परेशां होकर मांगेलाल ने सोशल मीडिया पर अपने विचार व्यक्त करते हुए आशंका जाहिर की कि हो सकता है छत्तीसगढ़ में बार बार पावर कट होने के पीछे बिजली कंपनी की साढ़ गाँठ इन्वर्टर बनाने वाली कंपनियों से हो सकती है. हर घंटे के अंतराल में हो रहे पावर कट से लोग परेशान होंगे और अपने घरों में पावर कट से बचने के लिए इन्वर्टर का उपयोग करेंगे. बस यही आशंका को व्यक्त करना और बिजली कंपनी पर अपने टी विचार व्यक्त करना मांगेलाल को भारी पढ़ गया |

पावर कट को लेकर सोशल मीडिया पर डाला था वीडियो

बिजली कटने को लेकर कथित तौर पर सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने के आरोप में एक 53 साल के शख्स को गिरफ्तार किया गया है. शख्स पर राजद्रोह के भी आरोप हैं. यह जानकारी पुलिस ने दी है. मांगेलाल को  गुरुवार शाम को गिरफ्तार किया गया. उसका अपराध यह है कि उसने सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट किया है जिसमें आरोप लगाए गए हैं कि राज्य सरकार की इनवर्टर बनाने वाली कंपनी से सांठगांठ है.   

क्या कहा था वीडियो में ?

वीडियो में अग्रवाल यह कहते हुए सुनाई दे रहे हैं कि छत्तीसगढ़ सरकार की एक इनवर्टर बनाने वाली कंपनी से सांठगांठ है जो राज्य सरकार को पैसे देती है. आरोप है कि अनुवंध के तहत हर घंटे और 2 घंटे में 10 से 15 मिनट की बिजली कटौती की जाती है. ऐसा होने से इनवर्टर की बिक्री बढ़ जाएगी.

बिजली कंपनी ने किया मुकदमा

मांगेलाल के खिलाफ बिजली कंपनी द्वारा केस दर्ज़ करवाया गया की मांगेलाल ने बिजली कंपनी और सरकार के खिलाफ सोशल मिडिया पर अफवाह फ़ैलाने का कार्य किया है, और सरकार को बदनाम करने की कोशिश की है. मांगेलाल पर धारा 124 ए (राजद्रोह), 505 /1 /2 (सरकार के खिलाफ प्रोपगेंडा) के आरोप में गिरफ्तार किया गया |

(Visited 1 times, 1 visits today)

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.